तकनीकी विवरण

पीवीसी-यु ए एस टी एम प्लम्बींग पाइप्स के लिये समर्थन की सिफारिश

पीवीसी-यु ए एस टी एम प्लम्बींग पाइप्स २३अंश तक के पानी के लिये श्रेष्ठ हैं. जैसे पानी का तापमान बढता है, उसका कार्यकारी दबाव कम होता जाता है. जैसे, यदि कार्यकारी दबाव २३अंश तापमान पर १००% है, वो ४५अंश तापमान पन ५०% हो जायेगा, और सिर्फ २२% होगा ६०अंश तापमान पर.  

 

 

 

 

मेटालीक पाइप्स की तुलनामें पीवीसी पाइप्स का थर्मल एक्स्पांसन लगभग ४.५ से ५ गुना होता है. जब तक पीवीसी-यु ए एस टी एम प्लम्बींग पाइप्स को दफनाकर ठंडे पानी के वहन के लिये इस्तेमाल किया जाये, तब तक उनके टिकाउपन पे तापमान का कोइ असर नहीं होता. लेकिन यदि बाहरी लाइंस हों और प्रवाही तापमान ऊंचे हों, तो थर्मल एक्स्पांसन और कोंट्रेक्शंस होने की संभावना रहती है. 

पाइप लाइन की लम्बाइ में बदलाव, इस तरह गीने जाते हैं.

δl = α × L δt

Where δl : एम एम में लम्बाइमें बदलाव

α :  पीवीसी ले लीनीयर एक्स्पांसन का को एफीसीयंट 

L :  पाइप की लम्बाइ एम एम में, सामान्य तापमान पर

सामान्य और अधिकतम कार्यकारी तापमान के बीच का अंतर 

थर्मल एक्स्पांसन और कोंट्रेक्शन की संभवना रखने हेतु, निम्न रीत का उपयोग हो सकता है

 

    1. एक्स्पांसन लूप : पाइपलाइन में थर्मल बदलाव की कमीपुर्ति करने के लिये ये सर्वसामान्य रात है.  एक्स्पांसन लूप का एक नमूना नीचे दिखाया गया है.  

 

 

लूप ओफ्सेट की लम्बाइ X ऐसे गीनी जाती है

X = 1.44 x d x δl

पाइप का बाहरी व्यास एम एम में.

लम्बाइमें बदलाव एम एम ंमें

Also Y = X/2.

 

  1. फीक्स्ड और स्लाइडींग पोईंट्स: इन दोनों तरह्के एंकरींग को साथमें होने से थर्मल एक्स्पांसन और कोंट्रेक्शन की संभवना की कमीपुर्ति की जाति है. 

 

सप्पोर्ट्स के बीच योग्य अंतर मीटर में.- सिफारिश  

2015-11-27 14_33_54-Book1 - Excel

 

फिनोलैक्स पीवीसी-यू नलसाजी पाइप और फिटिंग में शामिल होना लड़ी पिरोया हुआ

 

    • साइट पर थ्रेडिंग सावधानीपूर्वक किया जाना चाहिए। पाइप के अंत में एक उचित वर्ग कट सुनिश्चित करें।
    • लगातार पानी छिड़ककर थ्रेडिंग ऑपरेशन के अंदर से समर्थन डालें और गीला करें।
    • थ्रेडिंग के लिए पाइप पकड़े हुए पाइप रिंच और पाइप के जबड़े के बीच पर्याप्त कुशन प्रदान किया गया।
    • सही प्रक्रिया के लिए, थ्रेड एक पास में किया जाना चाहिए।
    • उच्च गुणवत्ता वाले टेफ्लॉन टेप को जोड़ों के सीलेंट के रूप में उपयोग किया जाना चाहिए।
    • संयुक्त कसने से बचें।
    • सभी पाइप लाइनों को लगभग क्षैतिज सेवा के लिए 1 मीटर की दूरी पर और पाइप क्लिप या अखरोट बोल्ट के साथ लंबवत सेवा के लिए 1.5 मीटर की दूरी पर समर्थित किया जाना चाहिए।
    • छिपाने से पहले सिस्टम को दबाव परीक्षण किया जाना चाहिए।

 

Joining of Finolex PVC-U Plumbing Pipe and Fittings by Solvent Cement

 

  1. काट:- मापकर पाइप की लम्बाइ को जरुरत के हिसाब से काटें और प्लास्टीक पाइप कटर या हेक्सो ब्लेड का इस्तेमाल करें.
  2. डिबुरिंग:- पाइप से बर्स और फीलींग्ज़ को पोकेट नाइफ या इस योग्य फाइल से निकाल दें. पाइप के अंत में थोडा बेवल दें जिससे एसेम्ब्ली के दौरान इंसर्शन सरलता से हो.
  3. सफाई और फिटिंग तैयारी:- साफौर सूखे कपडे से, पाइपपे से और सोकेट फीटींग के अंदर से, धूल और गीलापन पोंछें
  4. चेक सूखा फिट :-सोकेट में १/३ से २/३ अंदर तक पाइप सरलता से जाना चाहिये. इसे इंफीयरंस फीट के नामसे जाना जाता है. कोइ रेफरंस के बगैर पाइप यदि अंदर चला जात है तो फीटींग के सही माप को जांच लें. सही माप न हो तो दूसरा फीटींग लें. कार्य सरलता से हो इस हेतु पाइप पर सोकेट की गहराइ को मार्करसे अंकित करें.
  5. सॉल्वेंट सीमेंट आवेदन:- ए एस टी एम डी २५६४ धाराधोरण अनुमोदित फिनोलेक्स सोल्वंट सीमेंट ही इस्तेमाल करें नहीं तो जोड असफल रहेगा. पाइप के एंड् पर सोल्वंट सीमेंट का भारी और समान कोट लगाएं और फीटींग सोकेट के अंदर, पतला सोल्वंट सीमेंट कोट लगाएं.
  6. सभा:- धक्का देकर पाइप्स को फीटींग सोकेट्स में तुरंत एसेम्बल करें, १/४ से १/२ गति द्वारा पाइप को घुमायें और डालने के वक्त खयाल रखें कि जोडोंमें सोल्वन्ट सीमेंट्स का वितरण एक समान हो. एक समान एप्लीकेशन हेतु जोड लगाते समय सीमेंट प्रवाही स्वरूप में होना चाहिये.
  7. सेटअप और इलाज:-पाइप और फीटींगज़ के उत्तम जोड के लिये,६० सेकंड्स तक पकड्के रखें. सोल्वंट सीमेंट को सेट होने में १० से २० मीनट का समय लगता है. जोड के क्योरींग़ के लिये न्युनतम २४ घंटे लगते हैं. जोड पुर्णरूप से क्योर होने के बाद पाइप्स का दबाव जांचें.

 

Screen Shot 2015-11-14 at 7.17.58 pm

 

 

  • क्योरींग के पहले पाइप्स का दबाव न जांचें, क्योरींग का समय पाइप के माप, तापमान और् नमी के साथ  बदलता रहता है
  • सापेक्ष आर्द्रता ६०% से ज्यादा हो, तो क्योरींग के लिये ५०% समय ज्यादा रखें.
  • उपर दी गयीं सुचनाओं को निर्देश के लिये ही इस्तेमाल करें. 

 

प्लम्बींग़ सीस्टम के दबाव जांच / प्रेशर टेस्टींग के लिये निर्देशिका 

 

 

      • जांच के लिये पाइपके हिस्सेका चयन करें.
      • सपोर्ट सीस्टमको जांचे और खुले एंड्सको प्लग्ज़ से फिट किया है उसका ध्यान रखें
      • जांच/टेस्टींग़ के दौरान हल चलकम हो इसलिये पाइपींग सीस्टम को अच्छी तरहसे बांधें सारे वाल्व्स खुले रखे
      • दबाव जांच / प्रेशर टेस्ट पानीमें ही होना चाहिये
      • पाइपींग सीस्टम में धीरे धीरे पानी भरें जिससे अंदर की हवा बाहर निकल जाये
      • पाइस पर नियत किये गये कार्यकारी दबाव का १.५ गुना दबाव डालें.
      • फिर भी, ये खयाल रखें की दबाव, सीस्टम के सबसे छोटे भाग जैसे युनीयन , वाल्व, थ्रेडेड भाग इत्यादि के कार्यकारी दबाव से बढे नहीं.
      • प्रेशर टेस्ट एक घंटे से ज्यादा नहीं चलना चाहिये.
      • उसही तरह रीटेस्ट करें.

 

प्लम्बींग एप्लीकेशंस के लिये सोल्वंट सीमेंट

 

 

फिनोलेक्स पाइप्स और फीटींग्ज़ को जोडने के लिये, फिनोलेक्स प्लम्बींग सोल्वंट सीमेंट हितावह है. ये ए एस टी एम ड-२५६४ धाराधोरणों से सुसंगत है. पाइप्स और फीटींग्ज़ के माप अनुसार, दो तरह के सोल्वंट सीमेंट उपलब्ध हैं. थ्रेडेड जोईंट्स की तुलना में सोल्वंट वाले जोईंट्स दबाव झेलने की क्षमता को लगभग दूगना कर देते हैं.
2 3

पूछताछ के लिए पूछें

किसी भी व्यापार पूछताछ कॉल के लिए

18002003466

पूछताछ फार्म

नीचे दिए गए विवरण भरें और हमारे अधिकारियों में से एक जल्द ही आपके पास वापस आ जाएगा।